Writer’s block

लिखते समय सबसे बड़ी समस्या होती है कि शुरुआत कहाँ से की जाय, पहला वाक्य क्या हो, किन शब्दों का प्रयोग किया जाए। सारी कहानी दिमाग मैं घूमती  है। शब्द मानो कहीं अटके हों।… इसी को Writer’s block कहते है। लेकिन अपने ब्लॉग में यही सुविधा होती है कि समय का कोई प्रतिबंध नहीं, दिमाग … More Writer’s block

यादों का क्या? 

यादों का क्या?  वो आती जाती है   भूल न पाती, गाँव, गली, मोहल्ले  वो घर के आँगन! हंसी-ठहाके  कदमों तले आसमां था    भूल न पाती  नीम के पेड़ चूँ चूँ करते चिड़ियों के बच्चे  हथेलियों पर दाना चुगते,  खेल था,   बारिश की बूंदों में  झूलते, झगड़ते बचपन    मिट्टी के खिलौने  चूल्हा, चकिया  वो पड़कुलिया  भूल … More यादों का क्या?